अनुच्छेद 370 के हटने बाद जम्मू कश्मीर ने मनाई ईद

0
jambo

कठुआ- आज देशभर में जहां ईद उल अजाह धुमधाम से मनाई गई वहीं जम्मू कश्मीर में भी ईद के मौके पर मुस्लिम समूहदाय के लोगों ने नवाज अता कर एक दुसरे को गले लगाकर ईद की मुबारखबाद दी। आपको बता दे कि जम्मू कश्मीर से केंद्र सरकार ने अुनच्छेद 370 को हटाने के बाद से ही प्रशासन की तरफ से पूरे प्रदेश में पाबंदीया लगाई गई है। खासतौर पर कश्मीर संभाग में प्रशासनिक पाबंदीयां जम्मू संभाग के मुकाबले कुछ अधिक है। जिसके चलते ईद उल अजाह को शांतिपूर्वक तीरके से मनाना प्रशासन के लिये एक बडी चुनौती से कम नहीं रहा। प्रशासन ने सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम और आम लोगों को उनके घरों तक जरुरत की चीजों को पहुंचाने के लिये मौबाइल सर्विस का इंतजाम करने से लोगों को क्फर्यू जैसे हालतों में राहत प्रदान करने की कोशिश की गई। सोमवार को ईद उल अजाह को मनाने के लिये सूबह से ही कश्मीर से धारा 144 को हटाया गया ताकि लोग अपने घरों से निकल कर मस्जीदों में ईद की नवाज को अदा कर सके। ईद के दौरान जम्मू कश्मीर के किसी भी हिस्से से को अप्रिय घटना की कोई सूचना नहीं है। जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव रोहित कंसल ने ब्यान जारी कर पूरे प्रदेश में ईद उल अजाह शांतिपूर्ण रुप से मनाये जाने की घोषणा की। बात करे जम्मू संभाग की जहां पर ईद उल अजाह पर बडी संख्या में मुस्लिमों ने मस्जीदों में पहुंचाकर ईद की नवाज अता की। जम्मू शहर में ईद का सबसे बडा इश्तहमा शहर की जामा मस्जीद में हुआ जहा पर 5 हजार से अधिक लोगों ने ईद की नवाज में शिरकत की। वहीं कठुआ, बनी, साम्बा, ऊधमपुर,रियासी,राजौरी और पूंछ आिद इलाकों में ईद को धुमधाम से मनाई गई। वहीं ईद के इस खास मौके पर ज्यादातर जगहों पर प्रशासन की तरफ से सुरक्षा के कडे प्रबंध किये गए थे। वहीं प्रशासन के आला अधिकारी भी ईद के मौके पर मुस्लिमों को मुबारखबाद देने के लिये विशेष रुप से उपस्थित रहे।

Sumo

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More