JNU के बाद जवाहरलाल पर बोले BJP सांसद हंसराज हंस, कहा- सिख विरोधी दंगों के लिए जिम्मेदार नेहरू

0
jambo

नई दिल्ली : बीजेपी नेता और सांसद हंसराज हंस ने हाल ही में जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी पर एक राजनीतिक बयान देकर विवादों में आ गए थे। अब एक बार फिर से वे अपने बयान के कारण चर्चा में हैं। कांग्रेस और देश के पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू को लेकर टिप्पणी करने वाले हंसराज हंस ने कहा कि नेहरू देश के पहले प्रधानमंत्री क्यों बने थे? वे दूसरे प्रधानमंत्री क्यों नहीं बने।

दिल्ली नॉर्थ से बीजेपी सांसद ने आगे कहा कि नेहरू कई लोगों की हत्या के लिए जिम्मेदार हैं। उनके शासनकाल में कश्मीरियों से लेकर सिख और सूफी और यहां तक कि पंडितों को भी काफी यातनाएं झेलनी पड़ी थी। उन्होंने सिख दंगों के लिए नेहरु को जिम्मेदार ठहराया। यहां बीजेपी सांसद को जब याद दिलाया गया कि ये दंगे इंदिरा गांधी के शासन काल में हुए थे, इसपर फौरन ही उन्होंने अपने बयान को बदलते हुए कहा कि वह भी नेहरू के खून से हुआ था। हंसराज ने आगे कहा कि यह दंगा कोई नया नहीं था इतिहास से इसका गहरा नाता जुड़ा था। यहीं से टुकड़े-टुकड़े गैंग का आरंभ हुआ। जेएनयू के नाम को बदलने की बात दोहराते हुए हंसराज ने कहा कि नाम बदलेगा तो सोच भी बदलेगी।बता दें कि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने पर हंसराज हंस ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि दुआ करों कि सब जगह अमन हो और सब चैन से रहें। उस दौरान उन्होंने हल्के-फुल्के अंदाज में कहा कि ‘जेएनयू का नाम बदलकर एमएनयू कर दो।इसका नाम एमएनयू रख दो, मोदी जी के नाम पे भी कुछ होना चाहिए। जो नामुमकिन था वो उन्होंने मुमकिन कर दिखाया इसलिए कहते हैं कि मोदी है तो मुमकिन है।’

Sumo

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More