जम्मू कश्मीर के कठुआ में जैश के तीन आतंकवादी धरे गए

0
jambo

जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले में गुरूवार को पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद के तीन आतंकवादी गिरफ्तार किये गए हैं । पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी । जम्मू के पुलिस महानिरीक्षक मकेश सिंह ने प्रेट्र को बताया कि तलााशी के दौरान जम्मू पठानकोट राजमार्ग पर आज सुबह आठ बजे कार्डबोर्ड सामग्री से भरे ट्रक को रोका गया और उसमें से तीन आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया है । उन्होंने बताया कि उनके पास से हथियार एवं गोलाबारूद की भी बरामदगी की गयी है ।

कठुआ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्रीधर पाटिल ने कठुआ में संवाददाताओं को बताया, ‘‘आज हमने गुप्त सूचना के आधार पर एक ट्रक को लखनपुर में रोका और तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया ।’’ पाटिल ने बताया कि उनके पास से चार एके 56 राइफल, दो एके 47 राइफल, छह मैग्जीन और 180 गोलियां तथा 11 हजार रुपये नकदी बरामद की गयी है । उन्होंने बताया कि पकड़े गए तीनों आतंकवादी कश्मीर घाटी के रहने वाले हैं । यह ट्रक जावेद अहमद चला रहा था । इसका मालिक पुलवामा के गुलशनाबाद का सुहिल अहमद लाटू शामिल है । उन्होंने बताया कि पुलिस ने पकड़े गए तीनों आतंकवादियों की पहचान कर ली है । उनकी पहचान उबैद उल इस्लाम, जहांगीर अहमद पारे और सबील अहमद बाबा के रूप में की गयी है । उबैद और सबील पुलवामा के अघलारा कंडी के रहने वाले हैं जबकि पारे बडगाम के चरार ए शरीफ का रहने वाला है । अधिकारी ने बताया कि ये तीनों अवैध रूप से पंजाब से हथियारों को लेकर कश्मीर जा रहे थे, इनकी मंशा घाटी में शांति व्यवस्था को भंग करने की थी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा कि इन हथियारों और गोलियों की तस्करी संभवत: जैश ए मोहम्मद के माड्यूल के लिए की जा रही थी ताकि आतंकवादी गतिविधि को अंजाम दिया जा सके । उन्होंने बताया कि ऐसा माना जाता है कि इन संदिग्ध आतंकवादियों में से किसी ने अंतर्राष्ट्रीय सीमा पार से पठानकोट में बामियाल सीमा से होकर कश्मीर के लिए जमीनी कार्यकर्ताओं की मदद से घुसपैठ की थी । सूत्रों ने दावा किया कि आतंकवादी किसी बड़ी आतंकवादी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे थे । मामले की जांच के लिए पंजाब पुलिस ने भी विशेष अभियान समूह के एक ग्रुप को कठुआ भेजा है ।

 

 

 

 

Sumo

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More