सबवे इंडिया ने वल्र्ड सैंडविच डे के अवसर पर कैलाष सत्यार्थी चिल्ड्रेंस फंड के लिए 18 लाख रुपये जुटाए

0
jambo

कैलाष सत्यार्थी फाउंडेषन को यह चेक सौंपा गया

कैलाष सत्यार्थी चिल्ड्रेंस फाउंडेषन (केएससीएफ) के साथ अपनी भागीदारी तीसरे साल बरकरार रखते हुए सबवे इंडिया ने इस फाउंडेषन को 18 लाख रुपये का योगदान दिया है। इस रकम का इस्तेमाल फाउंडेषन द्वारा भूख की समस्या दूर किए जाने और पूरे भारत में बेसहारा बच्चों के विकास की दिषा में किए जा रहे कार्यों पर किया जाएगा।
सबवे के कंट्री डायरेक्टर (साउथ एषिया) रंजीत तलवार ने केएससीएफ के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर धवल दलाल को आज इस योगदान का चेक सौंपा।
षुरू में 1 नवंबर, 2019 को सबवे इंडिया ने भारत में सभी रेस्तरांओं में ग्राहकों के लिए ‘बाय वन गेट वन’ आॅफर के जरिये वल्र्ड सैंडविच डे मनाया था। उस दिन, सबवे रेस्तरां में हरेक डाइन-इन आॅर्डर पर फ्रेंचाइजी ने बच्चों के कल्याण के लिए केएससीएफ फंड में योगदान दिया।
दुनियाभर में सबवे फ्रेंचाइजी प्रमुख चैरिटी संगठनों के साथ भागीदारी कर हर साल वल्र्ड सैंडविच डे मनाते हैं। भारत में, सबवे ने नोबल षांति पुरस्कार विजेता कैलाष सत्यार्थी द्वारा स्थापित केएससीएफ के साथ भागीदारी की है।
तलवार ने कहा, ‘हमने केएससीएफ के साथ भागीदारी का अपना तीसरा वर्श पूरा किया है। हम इसे लेकर उत्साहित हैं कि यह भागीदारी भारत में बेसहारा बच्चों के लिए मददगार साबित हो रही है। हम इसे सफल बनाने के लिए अपने मेहमानों, सैंडविच आर्टिस्ट्स और फ्रेंचाइजी को धन्यवाद देना चाहते हैं।’
वर्श 2001 में अपना पहला रेस्तरां खोलने वाली रेस्टोरेंट चेन सबवे मौजूदा समय में देष में अपनी स्थापना का 18वां वर्श मना रही है। यह ब्रांड मौजूदा समय में 100 से अधिक भारतीय षहरों में 660 से ज्यादा रेस्तरांओं की चेन का परिचालन करता है। ब्रांड अपनी प्रोडक्ट लाइन-अप के संदर्भ में क्विक सर्विस रेस्टोरेंट इंडस्ट्री में बड़ा बदलाव ला रहा है। यह प्रोडक्ट लाइन-अप पारंपरिक रूप से ताजा और अधिक पौश्टिक समझी जाती है।
सबवे रेस्टोरेंट चेन डाइनिंग अनुभव को लगातार खास बना रही है, 100 से अधिक देषों में ग्राहकों को हर दिन तैयार होने वाले 70 लाख मेड-टु-आॅर्डर सैंडविच के साथ गुणवत्तायुक्त इंग्रिडिएंट और श्रेश्ठ फ्लेवर काॅम्बिनेषंस की पेषकष करती है। सवबे ब्रांड हर दिन ग्राहकों को बड़ी तादाद में सैंडविच, सलाद और रैप काॅम्बिनेषंस की फास्ट फूड पेषकष के लिए ताजा विकल्प प्रदान करता है। सभी सबवे रेस्टोरेंट लगभग 21,000 फ्रेंचाइजी मालिकों के स्वामित्व में चलाए जाते हैं और इनमें दुनियाभर में हजारों लोग काम करते हैं जिससे सवबे दुनिया का सबसे विषेश बिजनेस नेटवर्क बन गया है। फ्रेंचाइजी मालिक और कंपनी दुनियाभर में भूख से निजात दिलाने में मदद कर भूख की समस्या को दूर करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Sumo

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More